निदेशक मण्डल

हिन्दी
Image: 

अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक

Mr. M K Surana

श्री एम. के. सुराणा : अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक

श्री मुकेश कुमार सुराणा ने 01 अप्रैल, 2016 से, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के रूप में कार्यभार ग्रहण किया है। इससे पहले वे सितंबर 2012 से एचपीसीएल की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी प्राइज़ पेट्रोलियम लिमिटेड कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में कार्यरत थे।

श्री सुराणा वर्ष 1982 में एचपीसीएल में शामिल हुए थे। वे मैकेनिकल इंजीनियर हैं तथा वित्तीय प्रबंधन में उन्होंने मास्टर्स डीग्री हासिल की है। पेट्रोलियम उद्योग में 33 वर्ष से अधिक अपने करियर के दौरान श्री सुराणा ने रिफाइनरियों, कॉर्पोरेट, सूचना प्रणाली और एचपीसीएल में कारोबार की कई जिम्मेदारीयां निभाई हैं। उन्होंने बारीकी से स्ट्रेटजी सृजन,बिजनेस प्रोसेस री-इंजीनियरिंग, मेजर परियोजनाओं के कार्यान्वयन, रिफाइनरी संचालन, निगम के विस्तृत ईआरपी कार्यान्वयन, अधिग्रहण और अपस्ट्रीम संपत्ति का प्रबंधन इत्यादि योजनाएं तैयार की हैं।

श्री सुराणा को घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल और गैस के कारोबार में व्यापक अनुभव है, और उनके व्यावसायिक कौशल, नवीन विचारों और जन-केंद्रित नेतृत्व के लिए वे प्रसिद्ध हैं। उन्होंने टीम के सशक्त प्रदर्शन के लिए सकारात्मक और एक साझा दृष्टिकोण अपनाया है। वे एचपीसीएल में विस्तृत कॉर्पोरेट ईआरपी कार्यान्वयन टीम के एक सदस्य थे जो वर्तमान में एचपीसीएल के सभी व्यावसायिक लेनदेन का मुख्य आधार है।

एक प्रमाणित योग्यता निर्धारक और एक परियोजना प्रबंधन व्यावसायिक, श्री सुराणा तेल और गैस क्षेत्र के महत्वपूर्ण विभिन्न उद्योगों में सक्रिय हैं।

कार्यमूलक निदेशक

Shri Pushp K Joshi

श्री पी. के. जोशी : निदेशक - मानव संसाधन

श्री पुष्प कुमार जोशी ने दिनांक 01 अगस्त, 2012 से निदेशक - मानव संसाधन के रूप में कार्यभार संभाला है। इससे पहले वे मानव संसाधन विभाग में महत्वपूर्ण पदों पर कार्यरत थे , जैसे - कार्यकारी निदेशक - मानव संसाधन विकास, और प्रमुख - मानव संसाधन, विपणन विभाग।

विधि में स्नातक और एक्सएलआरआई, जमशेदपुर के पूर्व छात्र, श्री पुष्प कुमार जोशी 1986 में एचपीसीएल में शामिल हुए थे। तब से वे मानव संसाधन और औद्योगिक संबंध के क्षेत्र में विभिन्न महत्वपूर्ण पदों पर एचपीसीएल के प्रधान कार्यालय, विपणन और रिफाइनरी प्रभागों में काम कर चुके हैं।

कर्मचारी उन्मुख और उच्च निष्पादन संस्कृति के उद्देश्य से गठित मानव संसाधन की प्रमुख नीतियों और प्रथाओं के निर्माण एवं परिनियोजन के लिए श्री जोशी उत्तरदायी हैं ।

अक्षय परियोजना - नेतृत्व विकास कार्यक्रम, उत्पादकता में सुधार की पहल, आंतरिक ग्राहकों की देखभाल के लिए सूचना तकनीक की प्रभाव क्षमता को सुधारना, विभिन्न तकनीकी और व्यवहार प्रशिक्षण कार्यक्रम, मानव संसाधन- बिजनेस प्रोसेस पुनर्रचना (BPR), JDE (मानव संसाधन) का कार्यान्वयन, स्वास्थ्य प्रबंधन प्रणाली, एचआर ग्रीन क्रेडिट जैसी एचपीसीएल की विभिन्न मानव संसाधन प्रथाओं को , व्यापार को ध्यान में रखकर, उन्होंने नेतृत्व किया है।


Shri. Vinod S Shenoy

श्री विनोद एस. शेणॉय : निदेशक - रिफाइनरिज़

श्री विनोद एस. शेणॉय ने 1 नवम्बर 2016 से इन्होने रिफाइनरिज़ - निदेशक के रूप में कार्यभार संभाला हैं| इससे पूर्व वे एचपीसीएल रिफाइनरीज़ के समन्वय के महाप्रबंधक थे।

आईआईटी बॉम्बे से केमिकल इंजीनियरिंग में स्नातक, श्री विनोद एस. शेणॉय ने जून 1985 से एचपीसीएल के साथ अपने कैरियर की शुरुआत की है| अपने कैरियर के 31 सालों के दौरान, श्री शेणॉय ने रिफाइनरी प्रभागों और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के कॉर्पोरेट विभागों में विभिन्न पदों पर कार्य किया है और उन्हें पेट्रोलियम उद्योग का व्यापक अनुभव है|


Shri Rakesh Misri

श्री राकेश मिस्‍री: निदेशक - विपणन

श्री राकेश मिस्‍री ने 17 अक्टूबर, 2019 को निगम के निदेशक-विपणन के रूप में पदभार संभाला। निदेशक-विपणन के रूप में उनकी नियुक्ति से पहले, श्री मिस्‍री निगम में कार्यकारी निदेशक-विपणन समन्वय थे।

आरईसी श्रीनगर (अब एनआईटी श्रीनगर) से सिविल इंजीनियरिंग में एक स्वर्ण पदक विजेता, श्री मिस्‍री का हमारे निगम में 36 वर्षों से अधिक का समृद्ध और विविध पेशेवर प्रदर्शन है। उन्होंने उत्तर क्षेत्र रिटेल में कार्य कर रहे संगठन के विभिन्न वरिष्ठ स्तर के कार्यकारी निदेशक-प्रत्यक्ष बिक्री, कार्यकारी निदेशक-मानव संसाधन, कार्यकारी निदेशक-कॉर्पोरेट रणनीति और व्यवसाय विकास और कार्यकारी निदेशक-एलपीजी के रूप में कार्य किया है।

उनके पास अपने क्रेडिट के विभिन्न शैक्षणिक अंतर हैं और इन-हाउस क्षमता सेमिनार और कार्यशालाओं में एक महत्वपूर्ण तकनीकी वक्ता हैं।

पदेन निदेशक

Shri Sunil Kumar

श्री सुनील कुमार

श्री सुनील कुमार हमारी कंपनी के एक सरकारी नामित निदेशक हैं। वह आईआरएएस (1995 बैच) है और वर्तमान में मई, 2019 से संयुक्त सचिव (रिफाइनरीज), पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय, नई दिल्ली के पद पर तैनात हैं। वह भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (भारतीय खनि विद्यापीठ), धनबाद, वित्तीय से बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (पेट्रोलियम एनर्जी) हैं एनआईएफएम, फरीदाबाद से प्रबंधन, बीआई से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स, स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, ओस्लो, नॉर्वे, ईएससीपी-ईएपी, पेरिस, फ्रांस से कार्यकारी यूरोपीय एमबीए, आईआईपीए, नई दिल्ली से लॉ एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स डिप्लोमा और बीजिंग के लिए लॉजिस्टिक सिमुलेशन और योजना जियाओतोंग विश्वविद्यालय, बीजिंग, चीन।

संयुक्त सचिव (रिफाइनरीज) के रूप में, वह रिफाइनरीज, ऑटो ईंधन नीति, पेट्रोकेमिकल्स, कच्चे तेल और अन्य पेट्रोलियम उत्पादों के आयात / निर्यात से संबंधित मामलों की देखभाल कर रहे हैं; जैव ईंधन, नवीकरणीय ऊर्जा और संरक्षण, एकीकृत ऊर्जा नीति; जलवायु परिवर्तन और राष्ट्रीय स्वच्छ ऊर्जा नीति। MoP और NG में शामिल होने से पहले, उन्होंने रेलवे बोर्ड में निदेशक वित्त व्यय और भारतीय रेलवे के लेखा सुधार परियोजना के मुख्य परियोजना प्रबंधक सहित विभिन्न क्षमता में भारतीय रेलवे के साथ काम किया है।

अंशकालिक निदेशक

डॉ. अलका मित्तल

डॉ. अलका मित्तल

डॉ. अलका मित्तल 17 जून, 2021 से एचपीसीएल बोर्ड में नामित निदेशक हैं।

डॉ. अलका मित्तल नवंबर 2018 से ऑयल एण्‍ड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन लिमिटेड (ओएनजीसी) भारत की ऊर्जा प्रमुख कंपनी की निदेशक (मानव संसाधन) हैं। डॉ. मित्तल को विविध भूमिकाओं और चुनौतीपूर्ण क्षेत्रों में उद्योग जगत में 36 वर्षों से अधिक का व्यापक अनुभव है और ओएनजीसी के अपने इतिहास में पहली महिला कार्यमूलक निदेशक हैं।

एक मिशन के साथ एक नेतृत्व, डॉ. मित्तल ने कई रणनीतिक मानव संसाधन कार्यक्रमों और पहलों को सफलता के साथ संचालित किया है तथा सामाजिक बुनियादी ढांचे का समर्थन और स्थायी समुदायों का निर्माण कर प्रभावी परियोजनाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए ओएनजीसी को सीएसआर के क्षेत्र में देश की शीर्ष कंपनियों में से एक बनने के लिए प्रेरित किया है ।

डॉ. मित्तल अगस्त 2015 से ओएनजीसी नामित निदेशक के रूप में ओएनजीसी मैंगलोर पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड के बोर्ड में हैं और भारतीय प्रबंधन संस्थान, त्रिची के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स की सदस्या हैं।

डॉ. मित्तल ऊर्जा क्षेत्र में विशेष रूप से मानव संसाधन प्रबंधन और महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए समर्पित विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पेशेवर मंचों के साथ सक्रिय रूप से जुड़ी हुई हैं। उन्हें प्रशिक्षण और परामर्श में विशेष रुचि है और दो दशकों से ज्यादा समय तक ओएनजीसी के 12000 से अधिक युवा स्नातक प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षित किया है।

डॉ. मित्तल अर्थशास्त्र, एमबीए (एचआरएम) में स्नातकोत्तर है और "कॉर्पोरेट गवर्नेंस" के क्षेत्र में वाणिज्य और व्यवसाय अध्ययन में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की हैं।

सरकारी नामित निदेशक

Shri G. Rajendran Pillai

श्री राजेन्द्रन पिल्लई

श्री राजेन्द्रन पिल्लई को 15 जुलाई, 2019 से प्रभावी कंपनी के बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।

श्री राजेंद्रन पिल्लई कोल्लम जिले के निवासी हैं। उन्होंने बी.ए. और नागपुर विश्वविद्यालय के तहत चंद्रपुर के एसपी कॉलेज से एसएन कॉलेज, कोल्लम और एलएलबी से एम.ए.

उन्होंने आयकर विभाग के साथ काम किया है और वर्तमान में कोल्लम के जिला न्यायालय में एक वकील के रूप में अभ्यास कर रहे हैं।