प्रतिपुष्टी शिकायतेसंपर्क

स्वयं के लिए बेंचमार्क बनाएं

हिन्दी
Image: 

उपलब्धि का वास्तविक मूल्य सफलता प्राप्त करने में है। – एल्बर्ट आइनस्टाइन

प्रोजेक्ट एसीई और संतुलित स्कोरकार्ड पहलों की क्षमता को गतिशील करते समय यह सुनिश्चित किया गया कि प्रत्येक कर्मचारी को अपनी सीमाओं के बाहर सोचने और स्वयं को और सह कर्मचारियों को चुनौती देने के लिए सशक्त बनाया गया। हमारी धारणा है कि नवाचार किसी भी समय पर कहीं से भी जन्म ले सकता है।

नवीन विचारों को प्रोत्साहित करने और प्रतिस्पर्धी होने के लिए यह आवश्यक है कि हमारे कर्मचारियों की सक्षमताएं अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप हों। इस उद्देश्य को पूरा करने केलिए एचपीसीएल द्वारा सक्षमता रेखांकन (कंपीटेंसी मैपिंग और विकास) का प्रयास आरंभ किया गया है। इस प्रयास के अंतर्गत व्यवहार एवं तकनीकी सक्षमता ढांचा निर्धारित किया गया हैं।

सक्षमता में अंतर की पहचान के लिए मुख्य पदधारकों के लिए विकास केन्द्र आयोजित किए जाते है। प्रत्येक विकास केन्द्र के अंत में तैयार की जानेवाली व्यक्तिगत विकास योजनाओं के माध्यम से इन अंतरों का व्यवस्थित रूप से समाधान किया जाता। यह प्रयास संतुलित स्कोरकार्ड पहल के शिक्षण एवं वृद्धि परिदृश्य के साथ जुड़ा हुआ है। सभी प्रशिक्षण कार्यक्रम विभिन्न ढांचों में निर्धारित की गई सक्षमताओं और विकास केन्द्रों में पहचाने गए अंतरों के साथ जुड़े हुए हैं।

इसको हमारी भर्ती प्रक्रिया के साथ भी समेकित किया गया है जहां साक्षात्कारकर्ताओं को सक्षमता आधारित साक्षात्कार लेने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। विकास केन्द्रों से प्राप्त इनपुट को करियर और पदप्राप्ति योजना में भी प्रयोग किया जाता है।